जानिये क्या है नई गूगल ऐडसेंस पॉलिसी अब एक पेज पर कितने भी ऐड लगा सकते है , Know About New google Adsense Add Policy
जानिये क्या है नई गूगल ऐडसेंस पॉलिसी अब एक पेज पर कितने भी ऐड लगा सकते है , Know About New google Adsense Add Policy

जानिये क्या है नई गूगल ऐडसेंस पॉलिसी अब एक पेज पर कितने भी ऐड लगा सकते है – Know About New google Adsense Add Policy

SEMrush

जानिये क्या है नई गूगल ऐडसेंस पॉलिसी अब एक पेज पर कितने भी ऐड लगा सकते है – Know About New google Adsense Add Policy

गूगल ने ऐडसेंस पब्लिशर्स (adsense publishers) को ख़ुश करने के लिए पॉलिसी (big update in policy) में बड़ी अपडेट दी है। आमतौर पर प्रोडक्ट (product) और पॉलिसी (policy) चेंज की जानकारी नहीं दी जाती है, यह यूज़र्स की ज़िम्मेदारी (responsibility) है कि वो इसके बारे में ख़ुद (active) सजग रहें। यही कारण है कि हज़ारों वेब पब्लिशर्स (thousand web publishers) गूगल सर्च और ऐड प्रोडक्ट की जानकारी के बारे में छापते (print) रहे हैं। अधिकतर पब्लिशर्स को इसकी जानकारी भाग्य (information by luck) से हो जाती है, या किसी और से इसकी जानकारी (from some other person) मिल जाती है। इसी तरह हमें नई ऐडसेंस पॉलिसी New AdSense Policy के बारे में पता चला है, आइए आज आपको इसके (lets know about new google adsense policy in detail) बारे में बताते हैं।

कमर दर्द से बचने के 12 अचूक घरेलू उपाय एवं नुस्खे

जानिये मच्छरों के प्रकोप से बचने के नुस्खे

पॉलिसी चेंज की विस्तृत जानकारी – Complete Detail of Policy Change

आपको पुरानी पॉलिसी (old policy) की कुछ लाइनें देख सकते हैं, जिन्हें हटा दिया गया है, और इसकी जगह पर नई पॉलिसी अपडेट (new policy update) कर दी गई है।

इस पॉलिसी के अनुसार ऐडसेंस पब्लिशर्स हर पेज पर: Old Adsense Policy was…

– तीन कंटेंट ऐड (content add) यूनिट लगा सकते थे।

– तीन लिंक यूनिट (unit link) लगा सकते थे।

– दो सर्च बॉक्स (search box) लगा सकते थे।

– एक से अधिक बड़ी ऐड (big add unit) यूनिट 300*600 नहीं लगा सकते थे।

नई पॉलिसी में हुए बदलाव – Changes in New Policy

– किसी पेज पर लगा हुआ ऐडवर्टाइज़िंग (advertising) और पेड प्रोमोशनल मैटीरियल (paid promotional material) पेज के कंटेंट से ज़्यादा नहीं होना चाहिए।

– इसके साथ ही, आज जो कंटेंट प्रकाशित (content submitting) कर रहे हैं, उसकी कुछ वैल्यू होनी (must have some value) चाहिए और उसे रीडर्स (readers) के अनुसार तैयार किया जाना चाहिए।

अगर आपकी साइट पर बेकार या कम शब्दों (less content) का कंटेंट है, इन बातों को ध्यान में रखते हुए ऐडसेंस आपकी वेबसाइट पर ऐड (Adsense can stop showing adds on your website) दिखाना बंद कर सकता है। जब तक कि आप अपनी साइट पर सही (till you not change it properly) बदलाव न कर लें। जिन पेजों को गूगल कोई वैल्यू (no google value) नहीं देगा, वो इस प्रकार हैं:

– मिररिंग, फ़्रेमिंग (framing), स्क्रैपिंग (scrapping) और दूसरे सोर्स (other sources) से लिया हुआ कंटेंट बिना कुछ ऐड किए प्रकाशित (publishing) करना।

– जिन पेजों पर कंटेंट से ज़्यादा (more adds than content) ऐड दिखाए जा रहे हों।

– ऐसे कंटेंट जो आटोमैटिकली जेनेरेट (automatically generated) किए जा रहे हों, और उनका रिव्यू न किया गया हो।

– पेज जो गूगल वेबमास्टर (google webmaster) क़्वालिटी गाइडलाइन को न फ़ॉलो (follow) करता हो।

जानिये बोन कैंसर के शुरुआती लक्षण और उपचार

SEMrush

जानिये हाई ब्लड प्रेशर के लिए कुछ घरेलू नुस्खे

जानिये बिल गेट्स के 11 नियम जो आपको जिंदगी में कभी भी विफल नहीं होने देंगे

नई ऐडसेंस पॉलिसी चेंज का सारांश – Complete Detail of New Adsense Policy

  1. आप एक पेज में 3 से अधिक ऐड यूनिट (more add unit) लगा सकते हैं।
  2. अब आप एक से अधिक (more than one) बड़े ऐड यूनिट (> 300×600) लगा सकते हैं।
  3. आप मोबाइल पेजों (mobile page) पर एबव द फ़ोल्ड सिर्फ़ 320*100 आकार की एक ऐड यूनिट (add unit) लगा सकते हैं। बिलो द फ़ोल्ड (below the fold) में कोई लिमिट नहीं है।

पॉलिसी में हुए बदलाव का क्या मतलब है – What is the Meaning of Change in Policy

साधारण रूप (generally if we see) में देखा जाए तो यूज़र्स को ऐड लगाने की खुली छूट (open the limits) दे दी गई है। अभी तक आप सिर्फ़ AdX का प्रयोग करने पर ही तीन से अधिक ऐड यूनिट (using add units) का प्रयोग कर सकते थे। अब से आप वही काम ऐडसेंस (can do with adsense) के साथ कर पायेंगे।

नई ऐडसेंस पॉलिसी आपके कंटेंट पर (strict eye on your content) कड़ी नज़र रखेगी, यानि जो अच्छा और असली (good and genuine content) कंटेंट लिखेगा, उसे ज़्यादा लाभ (more gain) मिलेगा। नहीं तो ऐडसेंस एकाउंट बंद (adsense account can be closed) होने की नौबत आ सकती है।

इस बात का अनुमान लगाना कठिन (not much difficult) नहीं है कि पॉलिसी में ये बदलाव ऐड ब्लॉकर्स (because of add blockers) की वजह से किए गए हैं, जिनके कारण पब्लिशर्स (publishers) को ऐडसेंस रेवेन्यू के मामले में भारी नुक़सान (heavy loss) उठाना पड़ा है। अगर कोई ऐड यूनिट की संख्या बढ़ा देता था तो उसे ऐडसेंस एकाउंट की एक्सेस (Access of adsense account) खो देनी पड़ती थी।

एक्सपर्ट सलाह – Suggestion by Expert

– आपको इस खुली छूट का फ़ायदा (benefit) लेना है तो समझदारी (smart) से लीजिए। आपको इसके बारे ज़्यादा उत्साहित (excited) होने की आवश्यकता नहीं है।

– आप रीडर्स (readers) के काम का सही कंटेंट डिवेलप (develop right content) करते हैं, इस बात को सही से समझने (need to understand this properly) की आवश्यकता है।

– दूसरी बात आपको ऐडसेंस रेवेन्यू बढ़ाने के लिए ऐड लेआउट (add layout) और ऐड यूनिट की a/b testing करनी चाहिए। न कि कहीं भी ऐड यूनिट (add unit) लगा दें।

यह भी पढ़ें :- अगर आपके गर्भ में पल रहे हैं जुड़वा बच्चे, तो यह 7 आहार आपके लिए अमृत समान है | 7 food diet for twin baby mothers

यह भी पढ़ें :- खाएं पोटैशियम से भरे यह फूड अगर टालना है BP और स्ट्रोक का खतरा | If you want to avoid BP and stroke than eat these food

यह भी पढ़ें :- Aankhon par computer or mobile se hone wale dard aur jalan ko kaise kam kare

यह भी पढ़ें :- हाथ या पैर में प्लास्टर लगने के बाद क्या करें और क्या ना करें | What do and what no to do in plaster

SEMrush
x

Check Also

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से, Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface गूगल ऐडसेंस ...