जानिये क्या हो सकते है फ़्रीलांसर वर्कर बनने के फ़ायदे और नुक़सान , Jaaniye kya ho sakte hai freelancer banne ke faayde aur nuksaan
जानिये क्या हो सकते है फ़्रीलांसर वर्कर बनने के फ़ायदे और नुक़सान , Jaaniye kya ho sakte hai freelancer banne ke faayde aur nuksaan

जानिये क्या हो सकते है फ़्रीलांसर वर्कर बनने के फ़ायदे और नुक़सान | Jaaniye kya ho sakte hai freelancer banne ke faayde aur nuksaan

SEMrush

जानिये क्या हो सकते है फ़्रीलांसर वर्कर बनने के फ़ायदे और नुक़सान | Jaaniye kya ho sakte hai freelancer banne ke faayde aur nuksaan

 

इंटरनेट शायद ही किसी और के लिए फ़ायदेमंद साबित (profitable) हुआ हो जितना कि वह हर एक फ्रीलांसर (more for freelancer) के लिए हुआ है। फ़्रीलांसर वे लोग होते हैं जिनको किसी प्रोजेक्ट के लिए हायर (hiring for some project) किया जाता है। इन लोगों को ऑफ़िस (office) आने की ज़रूरत नहीं पड़ती है, कम्पनी इन्हें प्रोजेक्ट में तय प्रतिशत लाभ देती है (sometimes its in percentage) या फिर कॉन्ट्रैक्ट (sometime on contract) करती है। फ़्रीलांसर के तौर पर काम करने पर परम्परागत रूप से सैलरी (not getting traditional salary) नहीं मिलती है।

फ़्रीलांसर की जॉब (Job of a freelancer) | फ्रीलांसर बनने के नुक़सान (loss of being freelancer)

ऐसा माना जाता है कि फ़्रीलांसर के रूप में काम करना अच्छी बात है (its a good thing) लेकिन किसी ऑफ़िस में जॉब करने की अपेक्षा इसमें इसमें कई कमियाँ (but some negative things too) होती हैं।

  1. कड़ी मेहनत | Hard Work

जी हाँ, आपको काम करने के लिए स्थायी तौर (no permanent work) पर नहीं रखा गया है इसलिए आपको अपना काम पूरा करने के लिए बहुत मेहनत (you have to work hard) करनी पड़ती है। साथ ही एक प्रोजेक्ट ख़त्म होने के बाद आपको दूसरा प्रोजेक्ट ख़ुद सर्च (searching new project is very hard) करके क्लाइंट को काम देने के लिए मनाना (you have to convince new client) पड़ता है।

  1. अस्थायित्व | Instability

फ़्रीलांसर होने का मतलब है कि आप ख़ुद रिस्क (taking risk yourself) ले रहे हैं। जैसे कि हमने पहले कहा है कि सारा काम आपको ख़ुद करना होता है सो यहाँ कोई गारंटी नहीं (no guarantee in this field) होती है। हो सकता है कि आपके पास इस महीने कई प्रोजेक्ट मिल जायें और अगले महीने मुश्किल से एक (you can get project one day maybe not on other day) प्रोजेक्ट मिले।

  1. धोखा मिलने की संभावना | Possibility of being cheated

कुछ फ़्रीलांसर धोखेबाज़ी का शिकार (cheated) हो जाते हैं। कभी क्लाइंट (sometimes client) तो कभी बिचौलिया (dealer) काम पूरा होने के बाद पेमेंट नहीं करता है। ऐसे में विश्वास बहुत मुश्किल (trusting is very difficult) बात बन जाती है।

  1. बढ़ता कॉम्पिटिशन | Growth in Competition

आज कल ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर्स (graphic designers), कंटेंट राइटर्स (content writer), एनीमेटर्स (animators), वेब डिज़ाइनर्स (web designers) और सभी जगहों पर भारी भीड़ है। इस वजह से फ़्रीलांसर को कम से कम दाम पर काम करने के लिए मजबूर होना पड़ता है, दिन में काम ख़त्म करने के बाद कोई भूखा नहीं रहना चाहता है।

SEMrush
  1. आर्थिक प्रोत्साहन की कमी | Less Financial Motivation

जब आपकी किसी कम्पनी के लिए नौकरी करते हैं तो आपको सैलरी के अलावा भी बहुत सी सुविधाएँ (salary and other facilities provided by your company) दी जाती हैं जैसे ऑफ़िस आने जाने के लिए गाड़ी (vehicle), प्रोविडेंट फ़ंड (provident fund), पेड छुट्टियाँ (paid leaves), मेडिकल बेनिफ़िट (medical benefits) आदि अन्य लाभ। लेकिन फ़्रीलांसर के लिए ऐसी कोई सुविधा (no facilities for freelancers) नहीं होती है। बहुत बार ऐसा भी होता है कि प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए फ़्रीलांसर को बहुत से पैसे खर्च करने पड़ जाते हैं।

फ़्रीलांसर की इंफ़ोग़्राफ़िक  (Info Graph of Freelancer) | फ़्रीलांसर बनने के फ़ायदे (Benefits to be FreeLancer)

अगर इन बातों को पढ़कर आपका मन दुखी हो रहा है तो आपको फ़्रीलांसिंग के फ़ायदे भी पढ़ (read about benefits of being a freelancer) लेने चाहिए।

  1. आप बॉस होते हैं | You are Bo$$ of yourself

जब आपको सब काम ख़ुद करने हों तो आप अपने बॉस बन जाते हैं। एक फ़्रीलांसर के रूप में आपको किसी प्रोजेक्ट को लेने या उसे छोड़ने की छूट (you are free ti take any project or you also can reject it) होती है। आप अपने रूल्स ख़ुद बना (you can make rules yourself) सकते हैं।

  1. कभी भी फ़ायदा मिल सकता है | Good Gain in Any Contract

ये सच है कि फ़्रीलांसिंग में आपको प्रोजेक्ट ख़ुद सर्च करना पड़ता है (search for project) लेकिन अगर आपको एक बड़ा प्रोजेक्ट मिल जाए तो बहुत फ़ायदा (benefits if you get big project) मिल जाता है।

  1. जब मन करे काम करो | Do whenever you want to do

फ़्रीलांसिंग में सबसे आराम की बात यही होती है कि जब मन करे काम करो। यह सच है कि आपके पास पेड छुट्टियाँ नहीं (no paid leaves in it) होती हैं, लेकिन आपको छुट्टी के लिए किसी के सामने हाथ भी नहीं जोड़ने पड़ते हैं। सबसे अच्छी बात यह होती है कि आपको दिन में कब काम करना है और कब नहीं इसे आप निर्धारित करते हैं, कोई दूसरा नहीं।

  1. काम का दाम तय करने की छूट | You can decide the money or % for the work

आज में कॉम्पिटिशन बहुत बढ़ गया है और आपको दाम भी घटाने पड़ रहे हैं (reducing charges in the competition) लेकिन किस काम का कितना दाम लेना चाहते हैं इसकी आपको छूट मिलती है। आप अपने क्लाइंट को अपनी वाकपटुता (buttering) से मना सकते हैं कि उसे इस काम के इतने दाम क्यों देने चाहिए।

  1. अपने काम का अपना ढंग | Work in your style

फ़्रीलांसिंग करने का एक फ़ायदा है कि आपको अपना काम अपने ढंग से करने की आज़ादी होती है। आप पैजामा पहनकर (in pajamas), बेड पर आराम (on bed in rest form) से लेटकर या फिर किसी कॉफ़ी शॉप (in some coffee shop) में कॉफ़ी सिप (coffee sip) करते हुए अभी अपना काम कर सकते हैं। आपको क्या पहनना है और कहाँ बैठना है, ये आप ख़ुद डिसाइड (you can decide yourself) करते हैं।

सभी काम और उनके तरीक़ों के अपने फ़ायदे (gain) और नुक़सान (loss) होते हैं अगर आपको अपना काम पसंद है जो ये सब बातें मामूली परेशानियाँ (simple problems) बन जाती हैं, जिन पर आपका ध्यान कभी नहीं जाता है।

SEMrush