जानिये गूगल ऐडसेंस पॉलिसी से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण ज़रूरी बातें जो हर ब्लॉगर के लिए जानना बहुत जरूरी है , Jaaniye google adsense policy se judi kuch mahatavpooran jaroori baatein jo har blogger ke liye jan na bahut jaroori hai
जानिये गूगल ऐडसेंस पॉलिसी से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण ज़रूरी बातें जो हर ब्लॉगर के लिए जानना बहुत जरूरी है , Jaaniye google adsense policy se judi kuch mahatavpooran jaroori baatein jo har blogger ke liye jan na bahut jaroori hai

जानिये गूगल ऐडसेंस पॉलिसी से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण ज़रूरी बातें जो हर ब्लॉगर के लिए जानना बहुत जरूरी है | Jaaniye google adsense policy se judi kuch mahatavpooran jaroori baatein jo har blogger ke liye jan na bahut jaroori hai

SEMrush

जानिये गूगल ऐडसेंस पॉलिसी से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण ज़रूरी बातें जो हर ब्लॉगर के लिए जानना बहुत जरूरी है | Jaaniye google adsense policy se judi kuch mahatavpooran jaroori baatein jo har blogger ke liye jan na bahut jaroori hai

 

मैं ब्लॉग पर साल 2006 से ऐडसेंस प्रयोग करता रहा हूँ। तबसे यह मेरे लिए ऑनलाइन कमाई का रास्ता (online income source) रहा है। एडसेंस के साथ अनुभव काफ़ी लम्बा (long experience) है, इसलिए काफ़ी उतार चढ़ाव (ups and downs) भी रहे हैं। लेकिन इसका कोई विकल्प अभी तक इसके आगे टिका (no option is better than this) नहीं है। अभी तक यह सबसे ज़्यादा कमाई दिलाने वाला ऐड नेटवर्क (ad network) साबित हुआ है। बस मैं ऐडसेंस पॉलिसी (adsense policy) का पालन करता रहा हूँ।

मैंने आपको पहले भी ऐडसेंस से कमाई बढ़ाने के लिए टिप्स (i already give you tips) दिए हैं, लेकिन ऐडसेंस की शर्तें बहुत कड़ी हैं, और इसलिए आपको ऐडसेंस पॉलिसी का पालन करना चाहिए। चाहे बात साइट लेवल (site level) की हो या फिर अकाउंट लेवल (account level) की। पॉलिसी के पालन के लिए ज़मीन आसमान एक करने की ज़रूरत नहीं है।

बहुत से लोगों को अक्सर ऐडसेंस डिसेबल (adsense disable) होने का मैसेज आ जाता है और फिर वो मुझसे अपनी प्रॉब्लम शेअर (share problem with me) करते हैं। जिसका उत्तर सबको मिल सके इसलिए मैं आज इस पोस्ट को पब्लिश कर रहा (thats why i am publishing this post) हूँ। ताकि भविष्य में किसी का ऐडसेंस अकाउंट बंद न हो।

ऐडसेंस पॉलिसी को जानिए | Know the Adsense Policy

पांडा एल्गोरिद्म (Panda Algorithm) जारी करने के बाद ऐडसेंस की क्वालिटी गाइडलाइंस (adsense quality guidelines) में भी ज़रूरी बदलाव किए गए हैं। साल 2011-12 में बहुत से एशिया पैसेफ़िक यूज़र्स (asia pacific users) को उनके ख़राब और कॉपीराइटेड कंटेंट डालने के लिए ऐडसेंस से बैन किया गया था। इसके साथ इनवैलिड क्लिक भी एक बड़ी समस्या (is a big problem) है, जिस वजह से लोगों का ऐडसेंस बंद हो जाता है। लेकिन इस पर हम दूसरी किसी पोस्ट में चर्चा (we will discuss this on some other post) करेंगे।

गूगल ऐडसेंस पॉलिसी बहुत सख़्त है इसलिए बड़े-बड़े धुरंधर ब्लॉगर्स भी इसकी चपेट में आ चुके हैं। जिन्हें अपनी साइट पर से गूगल ट्रांसलेशन विजेट (google translate widget) तक हटाना पड़ा है।

ऐडसेंस पॉलिसी | Adsense Policy

अगर ऐडसेंस पब्लिशर्स आगे बताई गई ग़लतियाँ करने से बचें तो कभी उनका ऐडसेंस अकाउंट बंद (adsense account never been closed) नहीं होगा।

ऐडसेंस शर्तों को मानकर (obey adsense rules) पॉलिसी उल्लंघन करने से बचें –

1. इनवैलिड क्लिक | Invalid Clicks

इसी वजह से अधिकतर ऐडसेंस अकाउंट अक्सर ख़तरे की ज़ोन (danger zone) में रहते हैं। नए यूज़र्स कम ब्लॉग ट्रैफ़िक के चलते अर्निंग (earning) नहीं कर पाते हैं। अक्सर बहुत से लोग अपने दोस्तों (friends) से एडसेंस ऐड्स पर क्लिक करने को कह देते हैं, या ख़ुद ही आइपी बदल-बदलकर क्लिक (clicking the ads by changing IP Address) करते रहते हैं। गूगल के लिए इस तरह की एक्टिविटी पकड़ना चुटकियों का काम है, जिसके बाद वो ऐडसेंस खाता बंद (close the account) कर देते हैं।

इसलिए आप ये ग़लती तो कभी मत  करें। Never do this thing

2. भाषा | Language

ऐडसेंस सभी भाषाओं के लिए उपलब्ध नहीं (not available) है। इसलिए अगर आप किसी मान्य भाषा के लिए ऐडसेंस अप्रूव करवाने के बाद किसी अमान्य भाषा की साइट पर ऐडसेंस प्रयोग कर रहे हैं तो आपको ऐसा बिल्कुल नहीं (never do this) करना चाहिए। क्योंकि चोरी कभी न कभी पकड़ी जाएगी, जिससे होने वाली कमाई से आपको हाथ धोना पड़ेगा।

अगर आप किसी बहु-भाषी साइट पर भी ऐडसेंस (using adsense on multi language site) प्रयोग करते हैं और उनमें से एक भाषा ऐडसेंस पॉलिसी का उल्लंघन करती हो तो भी ऐडसेंस अकाउंट बंद किया जा सकता है।

3. ऐड यूनिट की संख्या | Quantity of ads unit

ऐडसेंस की एक तीन यूनिट की किसी वेब पेज (3 units in a page) पर लगाई जा सकती है। इस बारे में हम जल्द ही एक पोस्ट लिखेंगे। अगर आप तीन से अधिक ऐड यूनिट लगा लेते हैं, तो गूगल इसे ग़लती समझकर तीन से अधिक यूनिट पर विज्ञापन नहीं (not showing ads) दिखाएगा। वैसे भी तीन से अधिक यूनिट लगाने पर सीपीसी कम (CPC cost per click reduces) हो जाता है।

अगर आपको एडसेंस की तीन से अधिक ऐड्स दिखाने हैं तो आपको प्रीमियम ऐडसेंस पब्लिशर्स (premium adsense publisher) बनना पड़ेगा।

4. ईमेल में ऐड यूनिट | Ads Units in Email Add

बहुत से लोग आमदनी बढ़ाने के चक्कर में गूगल ऐडसेंस को ईमेल के साथ भेजना (sending ads in email) शुरू कर देते हैं। जब कोई ईमेल वायरल होने लगती है तो वह गूगल की नज़र (google knows this) में आ जाती है। जिसके बाद आपका ऐडसेंस अकाउंट बंद (can close your account) कर दिया जाता है।

इसलिए ये बेवकूफ़ी कभी मत करें। (Don’t do this stupidity)

5. ऐड टाइटल | Add Title

बहुत से पब्लिशर्स पेज (publisher page) पर जहाँ ऐड यूनिट लगाते हैं, उसके आस पास – यहाँ क्लिक करें, जैसा कोई मिसलीडिंग टाइटल (misleading title) भी डाल देते हैं। जिससे रीडर्स उसपर क्लिक कर देते हैं।

SEMrush

गूगल इसे ऐडसेंस ऐड पर ज़बरदस्ती क्लिक बढ़वाने की ट्रिक (trick can be costly for you) मानता है और ज़रूरत पड़ने पर ऐडसेंस खाता बंद कर देता है।

5. स्टिकी साइडबार | Sticky Sidebar

अगर आप ऐसी ब्लॉग डिज़ाइन प्रयोग कर रहे हैं, जिसमें स्टिकी साइडबार है और आपने उसमें ऐड लगा रखा है तो यह भी ऐडसेंस पॉलिसी का वॉयलेशन (violation of adsense policies) है।

इसी तरह आपको ऐडसेंस ऐड्स को पॉप-अप या आइफ़्रेम (dont use them in pop-ups or i-frame) में भी नहीं लगाना चाहिए। इससे भी ऐडसेंस अकाउंट बंद होने का ख़तरा बना रहता है।

6. मोबाइल ऐड | Mobile Add

आज कल मोबाइल पर साइट अधिक खोली जाती है। इसलिए गूगल ने इस सम्बंध में भी नीतियाँ बनाईं हैं जिससे अनुसार…

– एक पेज पर एक समय में दो ऐड यूनिट नहीं (not more than 2 ads in mobile feature) दिखनी चाहिए

– हेडर के ऊपर-नीचे या पोस्ट टाइटल के ऊपर नीचे, 300*250 या बड़े आकार की ऐड यूनिट नहीं प्रयोग करनी चाहिए। इसकी जगह आपको 320*100 आकार का यूनिट का प्रयोग करना चाहिए।

7. दूसरे ऐड नेटवर्क | Other Add Network

दूसरे ऐड नेटवर्क गूगल ऐडसेंस के साथ प्रयोग (while using other ad services with google adsense) करते समय इस बात का ध्यान रखिए कि गूगल ऐडसेंस पॉलिसी का उल्लंघन न करते हों। इस वजह से भी आपका ऐडसेंस अकाउंट बंद किया जा सकता है।

8. ऐडसेंस कोड से छेड़छाड़ | Changing Adsense Code

ऐडसेंस ऐड यूनिट कोड (dont do changes with google adsense codes) से किसी तरह की छेड़छाड़ कभी मत कीजिए। उसे किसी इमेज के ऊपर या आसपास क़तई न लगाइए। यह साफ़-साफ़ गूगल ऐडसेंस का उल्लंघन है। इस वजह से भी आप ऐडसेंस के प्रयोग से वंचित किए जा सकते हैं।

9. दूसरों की पोस्ट चेपना | Copying other blog post

बहुत से लोग दूसरों की मेहनत पर ऐडसेंस से कमाई करने का सपना (dreaming) देखते हैं। इस वजह से वे बिना सोचे समझे कॉपीराइटेड कंटेंट (copy write content) को भी अपनी साइट पर डाल देते हैं। जिस वजह से न केवल आपका ऐडसेंस खाता बंद हो सकता है। बल्कि द्वितीय पक्ष द्वारा आपके साथ क़ानूनी कार्रवाई भी सम्भव (possibility of legal action against you) हो सकती है।

10. पायरेटेड कंटेंट वाली साइट के लिंक देना | Giving pirated content site link

अगर आप किसी ऐसी साइट का लिंक अपनी साइट (link of another site) पर दे रहे हैं जो कॉपीराइट कंटेंट या चोरी की सामग्री बांट रही है, तो आपका ऐडसेंस अकाउंट निरस्त (close) कर दिया जाएगा। उदा० के लिए अगर आप किसी ऑडियो, विडियो या सॉफ़्टवेयर के पायरेटेड कंटेंट को शेअर (sharing pirated content) करने वाली साइट को लिंक कर दें तो यह भी ऐडसेंस पॉलिसी का वॉयलेशन है।

कुछ ऐसे कंटेंट होते हैं, जिन पर गूगल ऐडसेंस का प्रयोग पूरी तरह निषेध होता है – Content which is strictly banned by google adsense

– व्यस्क सामग्री (Adult content)
– हिंसक सामग्री
– जातिवादी सामग्री
– हैकिंग व क्रैकिंग सामग्री (Hacking or cracking content)
– ड्रग, एल्कोहल की ख़रीद फ़रोख़स्त वाली साइट की सामग्री
– हथियार की ख़रीद फ़रोख़स्त वाली साइट की सामग्री
– निबंध आदि बेंचने वाली साइट

ये बस कुछ उदाहरण (these are few categories) हैं, लेकिन अन्य बहुत सी श्रेणियाँ हैं। इसलिए आप ऐसे कंटेंट को अपनी साइट पर मत प्रकाशित करें अथवा ऐसे कंटेंट वाले पेजों से ऐडसेंस यूनिट हटा दीजिए।

11. वेब ट्रैफ़िक ख़रीदना | Buying Web Traffic

यदि आप अपनी साइट के लिए वेब ट्रैफ़िक ख़रीदते हैं और आपकी साइट पर ऐडसेंस प्रयोग किया जाता है तो यह कारण भी आपका ऐडसेंस अकाउंट निरस्त करवा सकता है। इसलिए लिए आप गूगल की क्वालिटी गाइडलाइंस को पूरा पढ़ (read full guidelines of google adsense) सकते हैं। जिससे आपको हर बात का पता चला जाएगा।

12. अन्य बातें | Some other things to know

– ऐड यूनिट को 404 पेज, एक्ज़िट पेज (exit page), लॉगिन पेज (login page) या थैंक यू पेज (thank you page) पर नहीं लगाना चाहिए।

– सिर्फ़ वीडियो वाले पेजों पर ऐड लगाते समय आपको 300 शब्दों का वर्णन (description) भी डाल देना चाहिए।

यह काम पॉलिसी का उल्लंघन नहीं हैं –

– सोशल मीडिया प्रोमोशन करना (Promoting social media)
– एड यूनिट का रंग रूप बदलना (changing add unit color)

SEMrush
x

Check Also

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से, Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface

मिलिए गूगल ऐडसेंस डैशबोर्ड के नए इंटरफ़ेस से- Meet New Google Adsense Interface गूगल ऐडसेंस ...