These New 9 Technologies Can Change the World , ऐसी 9 नई टेक्नोलॉजी जो दुनिया बदल सकती है
These New 9 Technologies Can Change the World , ऐसी 9 नई टेक्नोलॉजी जो दुनिया बदल सकती है

These New 9 Technologies Can Change the World – ऐसी 9 नई टेक्नोलॉजी जो दुनिया बदल सकती है

SEMrush

These New 9 Technologies Can Change the World – ऐसी 9 नई टेक्नोलॉजी जो दुनिया बदल सकती है

दुनिया तेजी (world is changing) से बदल रही है! इंसान की जिंदगी (human life) में जितने बदलाव 100 वर्षों में नहीं हुए होंगे, उससे अधिक बदलाव (changes) पिछले 20 वर्षों में हो गए और जितने बदलाव पिछले 20 वर्षों में नहीं हुए उससे अधिक बदलाव (more changes) आने वाले 7-8 वर्षों में हो जाएंगे| और इसका एक ही कारण है –“Technology – तकनीक”

आज के समय में जितनी तेजी से (changing very fast) बदलाव आ रहा है, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ| हमारी आज की पोस्ट (in today’s post) में हम आप ऐसी ही कुछ नयी तकनीको (New Technologies) के बारे में बताने जा रहे है, जो हमारी जिंदगी को पूरी तरह से बदल (can change our life) सकती हैं| आइये कुछ इसी तरह के अकल्पनीय टेक्नोलॉजीज (unimaginable technology) के बारे में जानते है –

6 बातें जिससे पकी यात्रा हो जाए आसान

3D प्रिंटिंग3D printing

3D Printing, वर्तमान समय (present time) की सबसे शानदार नई टेक्नोलॉजी (new technology) में से एक हैं| 3डी प्रिंटर, हमारे डिजिटल डिज़ाइन (digital design) को ठोस वास्तविक प्रोडक्ट में प्रिंट (print as a real product) कर देता है – एकदम शाका लाका बूम बूम की (like shaka laka boom boom pencil) पेन्सिल की तरह!

3D Printer आने वाले समय में दुनिया में अकल्पनीय बदलाव (unimaginable changes) लाएगा क्योंकि इसका उपयोग हमारे जीवन के लगभग (every area of our life) हर क्षेत्र में होगा| अभी तक थ्री डी प्रिंटिंग का उपयोग साईकिल (cycle) से लेकर हवाई जहाज (parts of aeroplane) के पार्ट्स, खिलौने, मेटल की वस्तुएं (metal products) , खाद्य उत्पाद (Food Products), मानव अंग (human body parts), मकान और कई तरह की वस्तुएं (lots of other things) बनाने में हुआ है|

यह टेक्नोलॉजी निरंतर रूप से विकसित (technology growing regular) हो रही है और भविष्य में इसका उपयोग (usage in future) लगभग हर तरह की ठोस वस्तुएं बनाने में किया जाएगा|

 Driverless car

गूगल और फोर्ड (google and ford) सहित कई कंपनियां Artificial Intelligence के माध्यम से स्वचालित कार (Auto-Driving Cars) को विकसित कर रही है| सेल्फ-ड्राइविंग कार में इनपुट विडियो कैमरा से दिया जाता है और कार के अलग अलग हिस्सो में कंट्रोलिंग के लिए सेंसर(Sensors) लगे हुए होते है|

Self-Driving कारों से सड़क दुर्घटनाओं में कमी आएगी क्योंकि इन कारों में लगे सेंसर और अन्य टेक्नोलॉजी (censor and other technology) इतनी शानदार है कि दुर्घटनाओं की सम्भावना (no possibility of accident) न के बराबर हो जाती हैं| कई कंपनियों ने सेल्फ ड्राइविंग कार (developed self driving car) विकसित कर ली है, लेकिन अभी इस टेक्नोलॉजी का व्यावहारिक (using this technology generally) रूप से उपयोग होने में कुछ वर्ष और (take some more years) लग जायेंगे|

यह भी पढ़ें :-  ख़ूबसूरत टीचर और शादी – Beautiful Teacher and Marriage

Robotics and Artificial Intelligence

ऐसे रोबोट्स (robots) जो अब तक हमने सिर्फ फिल्मों (movies) में देखे है, वो अब वास्तविक (real) रूप लेने लगे हैं| वैज्ञानिक निरंतर (scientists continuously) रूप से Robots में Artificial Intelligence को विकसित (develop) करने में लगे हुए हैं | हालाँकि विज्ञान (science) अभी तक इंसानों जैसी समझ वाले रोबोट्स विकसित (human robots) करने के आस-पास (not nearby) भी नहीं हैं लेकिन कई काम रोबोट्स इंसान (robots doing better then humans) से बेहतर और जल्दी करते है|  इनका उपयोग चिकित्सा ऑपरेशन (medical operation), हानिकारक पदार्थो (toxic products) वाली जगह तथा दोहराने वाले काम में अब भी हो रहा है|

आने वाले समय में रोबोट का उपयोग (usage of robot) दिन प्रतिदिन के कार्यों (daily works) में होने लगेगा जैसे खाना बनाना, गंदे बर्तन साफ़ करना (cleaning crockery), घर की सफाई करना, भरी वस्तुएं उठाकर (picking heavy things) एक जगह से दूसरी जगह ले जाना| जिस तरह कुछ वर्षों पहले कंप्यूटर ने हमारे कार्य करने (computer change our working style) के तरीके को बदल दिया था वैसे ही रोबोट्स भी हमारे कार्य करने के(robots will also change things) तरीके को बदल देंगे|

सब सोनिक ट्रांसपोर्टेशन हाइपरलूप  – Sub-Sonic Transportation Hyperloop

वैज्ञानिक यातायात के क्षेत्र (traffic area) में एक खास तरह की टेक्नोलॉजी “Sub-Sonic Transportation Hyperloop” विकसित (develop) कर रहे हैं| रॉकेट (rocket) जैसी दिखने वाली ये ट्रैन वैक्यूम सिस्टम (vacuum system) से गुजर कर बुलेट ट्रैन (bullet train) से तीन गुना (1224 कीमी ) तेजी से दौड़ेगी| अचानक बिजली से संपर्क टूटने, ख़राब मौसम (bad atmosphere) और भूकंप (earthquake) का इस पर कोई असर (no effect) नहीं होगा|

SEMrush

2020 तक  पहली Subsonic Train दौड़ाने की आशंका (possibility) है, जिससे परिवहन क्षेत्र (travel area) में बहुत बड़ा बदलाव आएगा|

जानिये फलता पाने के 8 सूत्रों के बारे में

इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स  – Internet of Things

हमारे रोजमर्रा के जीवन (daily routine work) में काम आने वाली वस्तुओ जैसे मोबाइल, म्यूजिक सिस्टम (music system), व्हीकल्स, इलेक्ट्रॉनिक (electronics), सेंसर्स और अन्य Smart Devices को एक नेटवर्क में कनेक्ट (connecting them in 1 network) करने की तकनीक है जो आपस में डाटा एक्सचेंज (data exchange) कर सकते है| इसका इस्तेमाल हॉस्पिटल्स (hospital) में मरीज की हेल्थ को चेक (health checkup) करने, घर और अन्य जगह पर मोबाइल के जरिये सिक्योरिटी (security from mobile) रखने, गाड़ी को क्रैश (safety from car crash) से बचाने में होता है|

इस टेक्नोलॉजी की मदद (with the help of this technology) से आने वाले समय में कई काम आसान हो जाएँगे जैसे  केक बनने पर आपका ओवन खुद (oven close itself) बंद हो जाएगा, कमरे में आने पे लाइट खुद (light on itself) जल जाएगी|

Brain Controlled Computers

इसका उद्देश्य इंसान के दिमाग (human brain) के द्वारा कंप्यूटर और अन्य डीवासेज (other devices) को काम करवाना है। हलाकि अभी सिर्फ कुछ ही काम इस पर हुआ है लेकिन भविष्य में आप दिमाग की तेजी से (computer works from brain power) कंप्यूटर पर काम कर पाएंगे| कुछ कंपनियां (some companies) ने इंसान के दिमाग को पढ़कर कार्य करने वाली कुछ (made some devices) डिवाइसेज बनायीं हैं|

आर्टिफिशीयल पिंक लाइट फार्म्स –  Artificial Pink light farms

बढ़ती जनसँख्या (growing population) की वजह से खेती योग्य जमीन (less farming land) कम होने लगी हैं | पिंक लाइट फार्म्स (pink light  farms) की मदद से घर के अन्दर ओर्गानिक (organic) और कीटनाशक मुक्त खेती (infection free farming) कर पाना संभव हैं| इस तकनीक (technique) में विशेष प्रकार की LED Lights का उपयोग करके आतंरिक वातावरण में खेती (farming in internal atmosphere) की जाती है| इतना ही नहीं, इस तकनीक में पानी भी कम खर्च (less usage of water) होता है और खेती वर्ष में कभी भी की जा सकती हैं|

इसका उपयोग तम्बाकू (tobacco), ड्रग्स (drugs) और वेक्सीन (vaccine) की खेती में हो चुका है|

यह भी पढ़ें :- दिल को तंदरुस्त और सेहतमंद रखने में आयुर्वेद है मददगार| Ayurveda is helpful for maintaining health of heart

वर्चुअल रियलिटी  – Virtual Reality

एक विशेष तरह की कंप्यूटर जनित इलेक्ट्रानिक डिवाइस (electronic device) जिसमे स्क्रीन और सेंसर्स (screen and censor) फिट हैं| उसे आँखों (eyes) पर पहन कर हम 3-D Images और Environment के द्वारा हमें बिल्कुल रियल गेम (enjoying like real game) जैसा आनंद ले सकते हैं| इतना रियल हैं, भविष्य (in future) में शायद रियलिटी और वर्चुअल रियलिटी (reality and virtual reality) में फर्क करना भी मुश्किल हो जाए | गेम्स के अलावा भविष्य में इसका उपयोग हेरिटेज (heritage), शिक्षा, मनोरंजन  (entertainment), बिज़नेस आदि कई क्षेत्रों (other areas) में हो सकेगा|

स्पेस ट्रिप –  Human Spaceflight

अभी तक विश्व भर (in whole world) में करीब 550 लोग ही अंतरिक्ष (travel in space) की यात्रा कर पाए हैं| लेकिन Virgin Galactic कंपनी आम लोगों को अंतरिक्ष की यात्रा करवाने के मिशन (working on the mission) पर कार्य कर रही हैं और इसके लिए विशेष प्रकार का स्पेस ट्रिप डिजाईन (special design of space trip) किया जा रहा हैं| अगले 4-5 वर्षों में पहली कमर्शियल स्पेस फ्लाइट (commercial space flights) भेजी जाएगी|

इसके साथ साथ अभी हाल ही में अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी (American space agency nasa) नासा ने भी अंतरिक्ष में जाने के इच्छुक व्यक्तियों से आवेदन (invitations from interested peoples) मंगवाए थे| विशेष प्रकार प्रशिक्षण (special training) के बाद कुछ चुने हुए व्यक्तियों (selected peoples) को अंतरिक्ष की यात्रा करवाई जाएगी|

कुछ कंपनियों ने 2030 तक अंतरिक्ष में होटल (hotels) और मानव बस्तियां (human societies) बनाने की दिशा में कार्य कर रही हैं |

SEMrush